On Page SEO kya hai? 2021′ में बेहतर रैंकिंग के लिए SEO Techniques

नमस्ते ! दोस्तों हम   पहले ही जान लिया  हैं कि SEO kya hai, तो हम यहाँ एक प्रकार के SEO के बारे में बात करने वाले क्या  है? जो On-Page SEO है। आपके website और blog पोस्ट  को search engine पर उच्च रैंक करने के लिए ऑन-पेज एसईओ सबसे महत्वपूर्ण कारक है। यह पोस्ट आपको यह समझने में मदद करेगी कि On-Page SEO kya hai , On-Page SEO का महत्व। और On-Page SEO Techniques| (What is On Page SEO In Hindi and Top 8+ On-Page SEO Techniques 2020)

On-Page SEO kya hai ? (What is On-Page SEO in Hindi?)

on page seo  यानि  seo के  नियम के हिसाब से आमने website या blog desing करना या जो हम पोस्ट लिख रहे है उसेमें seo के नियम को इम्लिमेंट करना| जेसे की keyword का इस्तमाल करना उस पोस्ट में image डालना यदि|

क्यों on page seo जरुरी है?(Why On-page SEO is Important?)

हमारे मन में कोय सवाल होता है तो हम internet पर search करके उनके जवाब ढूंढ़ है|

जिस वेबसाइट के पास उस सवाल का जवाब होता उनके post   SERPs लिस्ट हो जाते है|

उस लिस्ट मेसे हम किस एक या दो लिंक पे click करके हमरा जवाब ढूंढ़  लेते है|

लेकिन जोभी search engine है उसे केसे पता केसे चलता  हैकि जो लोग सवाल search करते है उसका जवाब इस post में ही है|

तो जोभी वेबसाइट या blog का मालिक होता है on page seo करके search engine को बताता है इस सवाल का जवाब  है|

On Page SEO Kaise Kare (Top 9 On-Page SEO Techniques)

1. मेटा टाइटल
2. पोस्ट पर्मलिंक (Post Permalink Structure)
3. हैडिंग टैग (Use Proper Heading Tags)
4. Use Table of conten
5. कीवर्ड (Keyword)6. Images with Alt text
7. Internal Linking8.Site Speed

9.Mobile Responsiveness

1. मेटा टाइटल (Meta Title)

अपनी website में टाइटल टैग बहुत ही अच्छा बनाए जिससे कोइ भी visitor उसे पढ़े तो उसे जल्द से जल्द आपके टाइटल पर Click करे| आप अपने primary search keyword  को टाइटल टैग में  रखें और 60 अक्षर लंबे होने चाहिए|

2. पोस्ट पर्मलिंक (Post Permalink Structure)

आपको URL में अपने target keyword का उपयोग करना चाहिए, और URL के उंदर  special characters, symbols, brackets, commas,आदि का उपयोग नहीं करना चाहिए।अपने URL संरचना में स्ट्रिंग्स को अलग करने के लिए डैश का उपयोग करें।

3. हैडिंग टैग (Use Proper Heading Tags)

आपको विभिन्न headings, sub-headings,और  important points को उजागर करने के लिए heading tags का उपयोग करना चाहिए।वर्डप्रेस और ब्लॉगर  में, titel  H1 होता है । ईद लिए  पोस्ट  में कहीं भी किसी भी अधिक H1 टैग का उपयोग करने की आवश्यकता नहीं है। एक काफ़ी हैं। section breaks के लिए, H2 और H3 टैग का उपयोग करे ।

Use Table of content

Table of content का उपयोग करके, आप उपयोगकर्ताओं को अपने लंबे post  को बेहतर तरीके से नेविगेट करने में मदद कर सकते हैं,  यह आपको Google search में  रेक  करने में भी मदद करता है।

On Page SEO kya hai? 2020 में बेहतर रैंकिंग के लिए SEO Techniques

5. कीवर्ड (Keyword)

पहले पैराग्राफ में एक बार और आखिरी पैराग्राफ में अपने मुख्य कीवर्ड का उपयोग करें। और  h2 या h3 tag में  भी  foucas keyword  का इसतमल करे| और प्सोत में जरूरत है वहा releted keyword का उपयोग करे|

Images with Alt text

इमेज ऑप्टिमाइजेशन इमेज सर्च से ट्रैफिक को लानेमे में बहुत मदद करता है।“image title”और “alt text” में कीवर्ड आपके ब्लॉग पोस्ट को अधिक target करने  में मदद करते हैं।सुनिश्चित करें कि आप अपलोड करने से पहले image को एक  meaningful नाम दें। और  एक वर्डप्रेस पेज या एक लेख में एक image ऐड के बाद, “alt text” जोड़ें।

Internal Linking

ब्लॉग पोस्ट को इंटरलिंक करने से आपके ब्लॉग पढ़ने वाले को  उस  पोस्ट  के releted दूसरी पोस्ट मिलेगी और     आपके ब्लॉग पर अधिक समय बिताने में मदद मिलेगी, और यह आपकी साइट के अन्य पृष्ठों के लिए पेज रैंक पास करने में भी मदद करेगा।इंटरलिंक करते समय, एंकर टेक्स्ट के रूप में एक कीवर्ड का उपयोग करने का प्रयास करें|anchor text + internal link लिंक का एक अच्छा संयोजन, एक पेज से दूसरे पेज पर  link juice पास करने में मदद करेगा।

Site Speed

आज के टाइम में हम फ़ास्ट  काम  करना  चाहते | हम १ सेकंड भी रुकना नहीं चाहते| यह हमारी वेबसाइट पे लागु पड़ता है| एक सेकंड की देरी से भी रूपांतरणों में 7% की गिरावट हो सकती है।आप बहुत आसान Google PageSpeed Insights tool का उपयोग करके स्पीड डिपार्टमेंट में अपनी वेबसाइट के प्रदर्शन की जांच कर सकते हैं। यदि आप में कमी आती है, तो आप अपनी साइट को गति देने के लिए कई प्रकार की चीजें कर सकते हैं, जिसमें g employing speedy hosting, a robust CDN (content delivery network) and image compression software, minifying JavaScript, HTML and CSS resources,  यदि |

Mobile Responsiveness

ज्यादातर लोग मोबाइल डिवाइस के जरिए इंटरनेट सर्फ करते हैं चाहे वह स्मार्टफोन हो या टैबलेट। इसलिए, ऐसी वेबसाइट का होना बहुत जरूरी है जो डेस्कटॉप और मोबाइल दोनों के लिए अनुकूलित हो, खासकर Google के 2018 के मोबाइल-फर्स्ट इंडेक्स रुख के बाद।आप यह पता लगाने के लिए कि आपकी साइट का डिज़ाइन मोबाइल-उत्तरदायी है, आप Google मोबाइल-फ़्रेंडली टेस्ट टूल का उपयोग कर सकते हैं।
 

On Page SEO kya hai? 2020 में बेहतर रैंकिंग के लिए SEO Techniques

2021 के लिए ऑन-पेज एसईओ चेकलिस्ट:(On-Page SEO Checklist for)

यह एक चेकलिस्ट है जिसका उपयोग आप यह सुनिश्चित करने के लिए कर सकते हैं कि आप खोज इंजन में उच्च रैंक करने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं।

कीवर्ड प्लेसमेंट टिप्स: (Keyword placement Tips:)

  •  टाइटल में कीवर्ड| (Keyword in the title.)
  • पर्मलिंक में कीवर्ड।(Keyword in the permalink.)
  • पहले 100 शब्दों में कीवर्ड। (Keyword in the first 100 words.)
  • इमेज ऑल्ट टैग में कीवर्ड।(Keyword in the image alt tag.).
  • H2 या H3 में  कीवर्ड का उपयोग करें।(Use  keyword in H2 or H3.)

ऑन-पेज एसईओ रैंकिंग फैक्टर्स 2021 :

  • Permalink से सभी स्टॉप शब्द निकालें।
  • मल्टीमीडिया (वीडियो, स्लाइड, इन्फोग्राफिक्स) जोड़ें।
  • images अपलोड करने से पहलेOptimize करें।
  • 65 से कम सब्द  का मेटा टायटल  बनाएँ।
  • FAQ स्कीमा का उपयोग करें

Video For ON Page Seo

Conclusion

दोस्तों हम  उमीद करते है की आप समज गए होगे की On Page SEO kay hai?(On Page SEO In Hindi ) और  जानने के बाद On-Page SEO Techniquesआप आसानी आपकी post या page कर  पायेगे|

आपको आभी कुछ पूछना है हमें comment करके पूछा सकते है|और हां इस पोस्ट अपने दोस्तों क साथ जरुर शेयर करे|

close

Don’t miss these tips!

We don’t spam! Read our privacy policy for more info.

Leave a Reply

0 Shares
Tweet
Share
Share
Share
Pin